केंद्रीय गृह मंत्रालय स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (SPG) सुरक्षा को लेकर नए बदलाव कर रहा है. जिन्हें भी ये सुरक्षा प्राप्त है अब उनके साथ विदेशी दौरों पर भी SPG के जवान तैनात रहेंगे, यानी कोई भी व्यक्ति जिसे ये सुविधा प्राप्त है उसके साथ जवान भी विदेश का दौरा करेंगे. पहले ऐसा नहीं होता था, लेकिन अब सरकार नियम में बदलाव कर रही है. सरकार के इस फैसले को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और गांधी परिवार के अन्य सदस्यों के दौरों से जोड़ा जा रहा है.

आपको बता दें कि SPG सुरक्षा देश में प्रधानमंत्री और पूर्व प्रधानमंत्रियों को दी जाती है. अभी ये सुविधा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा गांधी परिवार को मिलती है. इनमें कांग्रेस अध्यक्ष (अंतरिम) सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा शामिल हैं. पहले ये सुरक्षा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को भी दी जाती थी, लेकिन हाल ही में उनकी सुरक्षा में सिर्फ Z+ कवर कर दिया गया.

आतंकवाद पर चौतरफा घिरा PAK, बढ़ा ब्लैकलिस्ट का खतरा (PAK took no action against terrorism)

राहुल को लेकर खड़े होते रहे हैं सवाल!

बता दें कि महाराष्ट्र चुनाव से पहले राहुल गांधी विदेशी दौरे पर रवाना हो गए हैं, इस बात की चर्चाएं हैं कि वह बैंकॉक गए हैं या फिर कंबोडिया, लेकिन उनकी आधिकारिक लोकेशन की जानकारी नहीं है. भारतीय जनता पार्टी की ओर से कई बार इस पर सवाल उठाए जा चुके हैं कि राहुल गांधी अक्सर ऐसी विदेशी यात्राओं पर जाते हैं, जिसकी देश को जानकारी नहीं होती है. जबकि वह विपक्षी पार्टी के बड़े नेता हैं. इसके पहले भी राहुल गांधी कई बार 50 दिन की छुट्टी या ऐसे दौरों पर गए हुए हैं, जिनपर बीजेपी निशाना साधती रही है.

अभी तक क्या होता था?

दरअसल, गांधी परिवार की ओर से जब भी कोई व्यक्ति विदेश दौरे पर जाता था तो वह अपने पहले स्टॉपेज तक ही SPG की सुरक्षा को ले जाता था, लेकिन उसके बाद वह उन्हें वापस भेज देते. गांधी परिवार की ओर से इस दौरान प्राइवेसी का हवाला दिया जाता था और अपनी यात्रा को आगे बढ़ाया जाता है.

मुंबई में BJP नेता के घर में घुसकर परिवार पर बरसाईं गोलियां, 5 की मौत (ravindra kharat bhusawal)

अब क्या होगा?

केंद्रीय गृह मंत्रालय के नए बदलावों के मुताबिक अब SPG सुरक्षा लेने वाला कोई भी सदस्य यदि विदेश दौरे पर होगा तो SPG के जवान हमेशा ही उनके साथ रहेंगे. अगर ऐसा नहीं होता है तो जान का खतरा बना रह सकता है. यानी अब दिल्ली से विदेश जाने और वापस दिल्ली आने तक SPG सुरक्षा के जवान गांधी परिवार के साथ रहेंगे. प्रधानमंत्री तो हमेशा ही इस सुरक्षा घेरे के बीच में रहते ही हैं.

कैसी होती है SPG सुरक्षा?

बता दें कि चार स्तरीय सुरक्षा के अलावा स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (SPG) एक स्पेशल सुरक्षा व्यवस्था है जिसके तहत देश के वर्तमान और पूर्व प्रधानमंत्रियों के अलावा उनके करीबी परिजनों को यह सुरक्षा दी जाती है. पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद देश के शीर्ष पद पर बैठे नेता और उनके परिजनों की सुरक्षा देने के लिहाज से SPG की स्थापना की गई थी.

यह भी पढ़ें-

दशहरा: दिल्ली के द्वारका में रावण का पुतला दहन करेंगे PM मोदी (Dussehra Celebrationand by PM Modi)

High Alert: अयोध्या में बढ़ाई गई सुरक्षा, ड्रोन से की जा रही है निगरानी (Ayodhya on High Alert)

Tags:
COMMENT